Home Remedy For Immunity: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए रामबाण है ये घरेलू tips.....

Home Remedy For Immunity: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए रामबाण है ये घरेलू tips

Home remedy for increase immunity in body
Increase of Immunity's in body 
Immunity Booster :-आज के समय हर आदमी का जीवन (life) इतना बदल चुका है कि उसके पास अपने शरीर को स्वस्थ्य (healthy) रखने के लिए समय ही नही है।और इसी की वजह से आजकल हर आदमी किसी न किसी बीमारी से पीड़ित हैं।
ओर हर आदमी किसी न किसी दवाइयों (medicine) का उपयोग करता आ रहा है। तो हम आपको आज उन घरेलू सामानों के बारे में बताएंगे जिनको आप अपनी डाइट (diet) में शामिल करें ओर अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता (imunity ko boost) करे।
साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय (WHO) के द्वारा बताए गए उपायों का पालन करें। लेकिन बहुत से लोगों में मन में अभी भी यह सवाल होगा कि आखिरी आयुष मंत्रालय के ऐसे कौन से सुझाव/टिप्स हैं जिनसे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है। तो आइए जानते हैं आयुष मंत्रालय (WHO) की ओर से जारी किए गए रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के कुछ टिप्स-
  • खाना पकाने में रोजाना हल्दी, जीरा, धनिया और लहसुन जैसे मसालों का इस्तेमाल करें।
  • रोजाना सबेरे एक चम्मच (10g) च्यवनप्राश का सेवन करें। डायबिटीज से पीड़ित लोग शुगरफ्री च्यवनप्राश खाएं।
  • तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, सौंठ और मुनक्का का काढ़ा बनाकर दिन में एक या दो बार सेवन करें। इसमें जरूरत के अनुसार गुड़ या नीबू का रस मिला सकते हैं।

इम्यून सिस्टम को सुधारने वाले पेय पदार्थ  (Health drinks to improve your Immune system )

Increase of Immunity's in body
प्रतिक्रियात्मक चित्र-कच्ची हल्दी
हल्दी मिला दूध पिएं। 200ml गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाएं।
हल्दी वाला दूध इसे “गोल्डन मिल्क” भी कहते हैं या हल्दी की चाय अपने भोजन के बीच में लेने की कोशिश करे। इसके अलावा ग्रीन टी के साथ अन्य किसी मसाले (काली मिर्च, अदरक, इलायची, लौंग) को डाल कर ले सकते हैं।  इससे आप एक साथ 2 पोषक तत्वों का सेवन कर पाएंगे। इन मसालों में  उपस्ठित फ्लैवोनॉइड आपके इम्यून सिस्टम को बढ़ाने में काफी लाभदायक होते हैं।
(Note:-ऐसा दूध दिन में एक या दो बार पी सकते हैं।गर्मी के समय मे एक हप्ते (one week) में एक या दोबार ही पिये।)

शरीर में प्रतिरोधक क्षमता विकसित करे ग्रीन टी (Green Tea For Immunity )

Green tea for immunity
प्रतिक्रियात्मक चित्र-ग्रीन टी
ग्रीन टी एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है इसलिए इसका प्रयोग शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढाने, वजन और मोटापे को कम करने में किया जाता है।  इसमें पॉलीफेनोल उपस्थित होता है जो शरीर को रोगो से लड़ने के लिए मजबूत बनाता है साथ ही इंफ्लमैशन को भी कम करता है। इसके साथ ही ये पाचन क्रिया एवं मस्तिष्क को भी ठीक कार्य करने में मदद करता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए लहसुन खाएं (How To Eat Garlic For Immunity )

लहसुन हमारी रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है। लहसुन एंटी-ऑक्सीडेंट (anti-oxidant) से भरपूर तत्व है जो हमारे शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने की शक्ति देता है। इसके अलावा लहसुन में एल्सिन (allicin) नामक एक ऐसा तत्व होता है जो की शरीर को होने वाले कई प्रकार के संक्रमण
और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति देता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बूस्ट करने के लिए खाने में अलसी को अपनाए (Flaxseed For Immune System)

Flaxseed for immunity
प्रतिक्रियात्मक चित्र-अलसी
अलसी हमारे शरीर के लिए बहुत अच्छा इम्युनिटी बूस्टर है। शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए इसमें बहुत से गुण होते हैं।आलसी का नियमित सेवन करने से शरीर को कई प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलता है। अलसी में अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (alpha-linolenic acid), ओमेगा-3 (omega-3) और फैटी एसिड (fatty acid) होता है जो की हमारे शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं।

मसाले व हर्ब्स से कैसे सुधारे इम्यून सिस्टम? (How to improve your immunity with spices and herbs?)

काली मिर्च, मेथी दाना, हल्दी, अदरक, दालचीनी, इलायची, लौंग, ऑरेगैनो- इनमे मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर में रोगो से लड़ने की क्षमता बढ़ाते हैं। इनको चाय, काढ़ा, चटनी, सलाद के ऊपर डाल कर आदि तरीकों से इस्तेमाल कर सकते हैं।

(इसे भी पढ़े:- गर्मी में लू से कैसे बचें)


रोग प्रतिरोधक शक्ति लिए हल्दी खाएं (Turmeric Powder For Immunity)

हल्दी एंटी-ऑक्सीडेंट (anti-oxidant) गुण से भरपूर होती है इसलिए यह एक अच्छी इम्युनिटी सिस्टम बूसटर कहलाती है। साथ ही हल्दी रक्त को शुद्ध करने और शरीर के रंग और रूप को सुधारने का काम भी करती है। हल्दी में मोजूद गुणों की वजह से यह शरीर को कैंसर से लेकर अल्जाइमर तक की गंभीर बीमारियों से बचाने में मदद करती है। इसके अलावा हल्दी में करक्यूमिन (curcumin) नमक तत्व शरीर के रक्त में शुगर के स्तर को नियंत्रित करता है, जिससे ग्लूकोस का मेटाबोलिज्म सही रह सके और व्यक्ति मधुमेह जैसी बीमारियों से दूर रह सके।
नोट:-जहाँ तक संभव हो सके वहाँ तक कच्ची हल्दी का प्रयोग करे।

प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार के लिए दालचीनी (Cinnamon For Immune System )

दालचीनी में मोजूद एंटी-ऑक्सीडेंट (anti-oxidant) गुण खून को जमने से रोकने और हानिकारक बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने में मदद करतें है। साथ ही दालचीनी शरीर के ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करती है।

(इसे भी पढ़े:-गर्मी में स्किन की देखभाल कैसे करे)


प्रतिरोधक क्षमता के लिए व्यायाम है कितना ज़रूरी (Exercise for immune system)


Exercise increase of immunity
प्रतिक्रियात्मक चित्र- व्यायाम फ़ोटो
स्वस्थ जीवनशैली के लिए व्यायाम बहुत ज़रूरी है। यह हृदय, ब्लड प्रेशर, शरीर के वजन और विभिन्न प्रकार के बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। लेकिन क्या यह आपकी प्रतिरोधक क्षमता को प्राकृतिक तरीके से बढ़ाने में लाभकारी है? तो हम आपको बता दें जैसे आहार हमारे स्वास्थ्य में योगदान देता है वैसे ही व्यायाम भी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देने में मदद करता है। व्यायाम स्ट्रेस हॉर्मोस, कोर्टिसोल के स्तर को कम करने में मदद करता है, जो शरीर में ज्यादा होने पर इम्यून सिस्टम को कम करने लगता है। रोजाना व्यायाम कर के इस पर नियंत्रण रखा जा सकता है, इसके लिए-

रोजाना योगासनों का अभ्यास करें। कम से कम 30 मिनट तक प्राणायाम और योगासन करें।

Daily vyayam increase of immunity
प्रतिक्रियात्मक चित्र-व्यायाम
प्राणायाम और योगासन कैसे करे:-
  • 30 मिनट की तेज पैदल चाल या दौड़
  • साइकिल चलाना या ट्रेकिंग करना
  • बच्चों या पालतू जानवरों के साथ खेलना
  • एरोबिक्स या ज़ुम्बा
  • नृत्य
  • योग
(इसे भी जाने:-योगासन से होने वाले फायदे)


तनाव से प्रतिरोधक क्षमता पर पड़ता है प्रभाव (Stress affects immune system)

हमे हमेशा से ही समझाया जाता हैं,कि मनुष्य को कभी भी गुस्सा ओर तनाव से दूर रहना चाहिए।क्योंकि जब हम गुस्से या तनाव में होते हैं तो हमारे शरीर की सभी नसों में रक्त का प्रभाव बहुत अधिक बढ़ जाता है।जिससे बड़े हुए तनाव के कारण बहुत सारे हार्मोंस स्त्रावित होते हैं जो हमारे लिए बहुत ही खतरनाक साबित होते है। इसी के साथ ही बड़ा हुआ तनाव हमारे इम्यून सिस्टम को कम करने का काम कर देते है। जिससे हमारा शरीर रोग युक्त हो जाता हैं।अतः इसको रोकने के लिए हमें रोजाना योग एवं ध्यान करना चाहिए, जिससे सर(head) के  रोगों से बचाव होता है।

खांसी होने पर immunity कैसे बढ़ाएं

  • Immunity बढ़ाने के लिए तिल्ली का तेल या नारियल तेल या घी को दोनों नासिका छिद्रों में लगाएं। ऐसा दिन में एक या दो बार सुबह या शाम को करें।
  • एक चम्मच तिल तेल या नारियल तेल को मुंह में भरें। इसे दो-तीन मिनट तक मुंह में ही घुमाएं इसके बाद उगल दें। इसके बाद गर्म पानी से कुल्ला करें। ऐसा दिन में एक या दो बार करें।
  • ताजा पुदीना या अजवाइन की भाप दिन में एक या दो बार लें।
  • गले में खरास या खांसी होने पर लौंग पाउडर को शहद या शक्कर में मिलाकर दिन में दो-तीन बार लें।
ऊपर दिए गए उपाय आम खांसी जुकाम के लिए हैं, फिर भी आपको सलाह है कि यदि ऐसे लक्षण दिखाई दें तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें और डॉक्टर की सलाह का पालन करें।

(और पढ़ें - खांसी के घरेलू उपचार)

Note:- हमेशा ज्यादा से ज्यादा खट्टे फलों का सेवन करना चाहिए,जैसे- संतरे,निम्बू,इमली,कच्चे आम,अंगूर,टमाटर इत्यादि।

अब आपको समझ आ ही गया होगा कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (immunity of body) बढ़ाने के लिए हमे किन किन फलो ओर काढ़ा का उपयोग करे।जिससे हम रोगमुक्त हो सके।
अगर जानकारी अछि लगी हो शेयर ओर कमेंट करके जरूर बताएं।
धन्यवाद।

Post a Comment

Previous Post Next Post